ग्रीष्म ऋतु


हमारे देश में छः ऋतुएँ होती हैं, जो अपने क्रम से आकर पृथक - पृथक रंग दिखाती हैं | उनमे से एक ग्रीष्म ऋतु है | ग्रीष्म ऋतु आमतौर पर, होली (फाल्गुन के महीने) के बाद शुरू हो जाती है और चैत्र, वैशाख, ज्येष्ठ मास में रहती है | इस ऋतु के दौरान, दिन लम्बे और गर्म होते हैं, वहीं रातें छोटी होती है |

बहुत गर्मी पड़ने के बावजूद गर्मी का मौसम बच्चों का सबसे पसंदीदा मौसम है | इस समय में बच्चों की स्कूल की छुट्टियाँ होती है | कुछ लोगों के लिए, गर्मियों का मौसम अच्छा होता है, क्योंकि वे उन दिनों में ठंडे स्थानों पर मनोरंजन और मस्ती करने के लिए जाते है | बच्चों को यह मौसम बहुत पसंद है , क्योंकि इस मौसम में वह आइसक्रीम और तैराकी का आनंद ले सकते है |

 

गरमी के मौसम में लोग आम, खीरा, ककड़ी, लीची, कटहल, खरबूजा, तरबूजा जैसे फलों का सेवन करते है | इस ऋतु में धूप बहुत होती है जिससे बचने के लिए लोग दिन में घरों पर ही रहते है और आरामदायक सूती कपड़े पहनते है | सूर्य की तपिश से उत्पन्न लू के कारण धरती तवे की भांति गर्म हो जाती है, तब मनुष्य ही नहीं पशु-पक्षी भी इस गर्मी से व्याकुल हो जाते हैं और पेड़-पौधे भी सूखने लगते है |

 

हमें ग्रीष्म ऋतु में पशू-पशियों व जानवरों को पानी पिलाकर उनकी सहायता करनी चाहिए | हमें सभी ऋतुओं का आनंद उठाना चाहिए क्योंकि प्रकृति को बनाए रखने में सभी ऋतुओं का अपना अहम योग्दान है।

 

time: 0.0191080570