मोर : हमारा राष्ट्रीय पक्षी


पशु - पक्षी प्रकृति की शोभा होते हैं | अपनी सुंदरता से सभी का मन मोह लेते है | पक्षियों में सबसे सुन्दर पक्षी मोर है | मोर हमारे देश का राष्ट्रीय पक्षी है | मोर अपने सौंदर्य से सभी का मन मोह लेते है वह सभी को अपनी और आकर्षित कर लेते है | मोर को मयूर भी कहते है | मोर भारत देश में लगभग सभी जगह पाए जाते हैं |

मोर की सुंदरता अदभुत है | मोर के पंखों का रंग हरा, नीला और सुनहरा होता है | पंखों पर गोल - गोल चक ते भी होते हैं | इनकी गर्दन नीले रंग की तथा बहुत ही लम्बी होती है। इनके पैर बहुत लम्बे होते हैं। इनके सिर पर मुकुट होता है, जिसे कलगी कहते हैं, जिसके कारण इन्हें पक्षियों का राजा भी कहा जाता है। इनके पैर बहुत लम्बे होते हैं। पतली टांगें और भारी शरीर के कारण मोर अधिक उड़ नहीं सकते। जरूरत पड़ने पर यह तेज भाग सकते हैं।

मोर प्राय: वर्षा ऋतु में नृत्य करते हैं। वह नाचते समय अपने पंख फैला लेते हैं | नाचते वक्त मोर अपने पंख ऊपर उठाकर गोलाकार फैला लेते हैं | जो बहुत ही आकर्षक दिखाई देता हैं | मयूर खेतों और बगीचों में पाए जाते हैं वे अनाज खाते हैं। वह कीड़े - मकौड़े खाकर किसानों के खेतों की रक्षा करते है | यह साँप को भी खाते है | भारत का मोर देश - विदेश में प्रसिद्ध है |

time: 0.0135600567