अपादान एवं सम्बन्ध कारक का प्रयोग (Objective Case & Dating Case)


अपादान एवं सम्बन्ध कारक का प्रयोग

अपादान कारक का प्रयोग

अपादान कारक में ‘से’ इस अर्थ में प्रयोग होता है । जहाँ पर अलग होने की क्रिया पाई जाए, वहाँ उस नामपद को अपादान कारक कहते है । जैसे –
छात्र विद्यालय से आते है - इस वाक्य में छात्रों को विद्यालय से अलग होने की क्रिया है।
इसलिये स्कूल अपादान नामपद है  ।अपादान नामपद में पण्चमी विभक्ति का प्रयोग होता है।

जैसे – विद्यालयात्  =   विद्यालय से।
वृक्ष  से पत्ता  गिरता है  = वृक्षात्  पत्रं पतति । यहाँ पर वृक्ष से पत्ते का सम्बन्ध बिलकुल टुट चुका है, अतः वृक्ष में पण्चमी विभक्ति का प्रयोग हुआ ।
जिस नामपद के साथ ‘बिना’ अव्यय का प्रयोग होता है , वहाँ पर भी पण्चमी विभक्ति का प्रयोग होता है  । जैसे -  ज्ञान के बिना मुक्ति नही होती है  = ज्ञानात् बिना मुक्तिः न भवति ।
पंचमी विभक्ति के चिन्ह इस प्रकार होते है –
 
एकवचन  द्विवचन बहुवचन
रामात्  रामाभ्याम् रामेभ्यः
बालकात्  बालकाभ्याम् बालकेभ्यः
छात्रात् छात्राभ्याम्  छात्रेभ्यः
नरात् नराभ्याम् नरेभ्यः
                                 
संस्कृत वाक्यों में प्रयोग  - 
वृक्षात्    आम्राणि  पतन्ति  =  वृक्ष से आम गिरते है  ।
छात्राः विद्यालयात्  आगच्छन्ति = छात्र  स्कूल से आते है ।
अश्वाः  वनात्  आगच्छन्ति  = घोड़े  जंगल से आते है ।
जनाः आपणात्  आम्राणि आनयन्ति =  लोग बाजार से आम लाते है ।
सोमवारात्   अनन्तरं  मंगलवारः भवति = सोमवार के बाद मंगलवार होता है ।
कर्णाभ्यात् कुण्डले  पततः =  कानों कुण्डल गिरते है ।  

इस प्रकार अपादान कारक का प्रयोग होता है ।

सम्बन्ध कारक का प्रयोग  - 

एक नामपद का दूसरे नामपद के साथ  सम्बन्ध बताने के लिए षष्ठी विभक्ति का प्रयोग किया जाता है  ।
षष्ठी विभक्ति के चिन्ह इस प्रकार है –
 
एकवचन  द्विवचन बहुवचन
रामस्य रामयोः रामाणाम्
देवस्य देवयोः  देवाणाम्
छात्रस्य छात्रयोः छात्राणाम् 
बालकस्य  बालकयोः बालकानाम्
जनकस्य जनकयोः जनकानाम्
                             
                                             
संस्कृत वाक्यों में प्रयोग-  ‘का’  ‘की’  ‘के’
खगाः  सरोवरस्य जलं पिबन्ति =  पक्षी तालाब का पानी पीते है।
पत्रवाहकः कृष्णस्य पत्रं आनयति = पत्र वाहक कृष्ण के पत्र लाता है।
रामः दशरथस्य चित्रं पश्यति =   राम दशरथ के चित्र देखता है।
अध्यापकः छात्राणाम् लेखान् पठति =  अध्यापक छात्रों के लेखन को पढ़ते है।
time: 0.0134758949